24/12/10

आज हम कुछ नही बोलेगे जी बस दिखायेगे........

26 comments:

  1. ऑरे बाप रे!...सर...ये लोग कौन है?

    ReplyDelete
  2. हम भी सिर्फ़ हसेन्गे

    ReplyDelete
  3. कमाल कर दिया सरजी..आपने तो हम कार्टूनिस्टों के भी कान काट लिए..हा.हा.हा.!

    ReplyDelete
  4. हा-हा-हा-हा-हा-हा.....
    (आज हम भी कुछ नहीं बोलेंगे जी ... सिर्फ़ हंसते ही जाएंगे)

    ReplyDelete
  5. ... ye bhee khoob rahee ... jay ho !!!

    ReplyDelete
  6. अरे वाह......... मज़े आ गए........

    जय हो भारत भाग्य विधाता.......

    ReplyDelete
  7. ha ha ha....desh ki sachai ko taswiro ke madhyam se dikha diya....

    ReplyDelete
  8. अरे अरे यह मेरा कमाल नही यह तो मै फ़ेस बुक से ऊठा के लाया हुं जी चोरी चोरी नही जी, दिन दहाडे लिंक अभी देता हुं जी
    आप लोग अलोक झा जी को धन्यवाद दे, यह रहा उन का लिंक...
    http://www.facebook.com/#!/profile.php?id=100000613660416
    मै तो उस फ़ोटो को दिखाने मात्र यहां तक लाया हुं, क्योकि मुझे अच्छी लगी

    ReplyDelete
  9. भाटिया साब ,
    गजब चित्र लायें हैं आप । प्रधानमन्त्री की दयनीय स्थिति पर रोना आता है। ज़ब PM ही इतना कमज़ोर होगा तो देश की स्थिति का अनुमान लगाना मुश्किल नहीं।

    ReplyDelete
  10. बहुत खूब। मैडम की बल्ले बल्ले। शुभकामनायें।

    ReplyDelete
  11. वाहे गुरु, ये कमी आंटी इसे छत की मुडेर से नीचे छोड दे !

    ReplyDelete
  12. अरे भाई,VIP लोग हैं

    ReplyDelete
  13. खतरनाक रेलिंग पर बेलेंस के लिये संघर्षरत बालक और जकड कर सहारा दिये हुए उसकी संरक्षक!!

    सार्थक कल्पना!!

    ReplyDelete
  14. राज जी काहे को हमारे प्रधानमंत्री जी की ऐसी की तैसी कर रहे हैं? बेचारे वैसे ही डरे हुए हैं, कब गद्दी छिन जाए और युवराज आकर बैठ जाएं? बस अब धक्‍का देने की ही तैयारी है।

    ReplyDelete
  15. कंप्यूटर के खेल निराले मेरे भैया.

    ReplyDelete
  16. ऐसा नजारा कभी जर्मनी में भी देखा है क्या इसी लिए मेरा भारत महान है |

    ReplyDelete
  17. ये तो बता देते जी कि सोनिया जी सम्भाले हुये हैं या डरा रही कि गिरा दूंगी:)

    प्रणाम

    ReplyDelete
  18. आपको एवं आपके परिवार को क्रिसमस की हार्दिक शुभकामनायें !

    ReplyDelete
  19. कुछ बोलने की जरूरत नहीं है!
    चित्र ही सबकुछ बोल रहा है!

    ReplyDelete
  20. सर जी बिल्कुल कमाल की आईडिया है ये तो....... धन्य हो प्रभु.
    फर्स्ट टेक ऑफ ओवर सुनामी : एक सच्चे हीरो की कहानी

    ReplyDelete

नमस्कार,आप सब का स्वागत हे, एक सुचना आप सब के लिये जिस पोस्ट पर आप टिपण्णी दे रहे हे, अगर यह पोस्ट चार दिन से ज्यादा पुरानी हे तो माडरेशन चालू हे, ओर इसे जल्द ही प्रकाशित किया जायेगा,नयी पोस्ट पर कोई माडरेशन नही हे, आप का धन्यवाद टिपण्णी देने के लिये