20/10/10

यह जीवन हे....

मेरे लिये पिछले तीन साल बहुत कुछ ऎसे निकले कि मै भगवान से यह दुआ करता हुं कि ऎसा किसी के साथ ना हो, लेकिन मै भी हिम्मत नही हारा, ओर अगले हादसे के लिये मुकाबला करने के लिये वक्त से पहले ही हिम्मत जुटा लेता हुं.


अभी भारत के लिये टिकट ओ के करवा कर पेमेंट कर दी, ओर सारा प्रोगराम भी बना लिया, कोन एयर पोर्ट पर छोडने जायेगा, ओर कोन  लेने, फ़िर हमारे छॊटे साहब को बोक्सिंग का  शॊंक बहुत चढा था, करीब एक महीने से जा रहे थे, मैने मना भी किया, लेकिन चढती जवानी अब हमारी थोडे सुनती, अब पिछले हफ़ते से अपना घुटना तुडवा कर बेठे हे, सोम बार को स्पेलिस्ट के पास गये, उस डा० ने कई टेस्ट किये, अलग अलग पट्टिया, ओर पलास्टर दे दिये, ओर अब डा० कहते हे कि घुटने का आप्रेशन होगा, मैने कल की छुट्टी ली हे, अप्रेशन तो छोटा सा हे, लेकिन फ़िकर तो हमे हे, उसे कोई फ़िकर भी नही, उस की मां कल से उदास हे कि अभी से इस गधे का आप्रेशन? लेकिन बोक्सिंग का भुत उस के सर से उतर गया हे, वेसे उस के भाई ओर उस के कमरे मे कसरत करने सारी मशीने पडी हे, जब कि मै उसे कहता हुं कि सुबह सुबह बाहर दोड कर आओ इन सब मशीनो का कोई लाभ नही, अब डोले ओर मुश्कल बनाने मै लगे रहते थे, इस सप्ताह से यह छूटा हे.
कल इस गधे का आप्रेशन सही हो जाये, ओर घुटने का दर्द ठीक हो जाये आप सब इसे आशीर्वाद दे, फ़िर मिलते ह

25 comments:

  1. अब तक सब ठीक हुआ है...आगे भी ठीक होगा ,आप चिन्ता न करें...छोटे साहब को मेरी शुभकामनाएं...आशिर्वाद सहित...

    ReplyDelete
  2. बिल्कुल अच्छा होगा जाएगा छोटा नवाब. हमारी शुभकामनाएं..

    ReplyDelete
  3. इश्वर सब अच्छा करेगा आप चिंता न करें.

    ReplyDelete
  4. आप इस तरह हिम्मत न हारें!
    भगवान बहुत दयालू है!
    --
    आप्रेशन सफल होगा!
    --

    ReplyDelete
  5. सब सही सलामत रहेगा
    भगवान से यही कामना है।

    ReplyDelete
  6. ah these kids ! Don't worry everything is going to be fine Sir !

    it's a minor operation, our best wishes are with your family !

    ReplyDelete
  7. ओह्! आजकल की नई पीढी भी न....खैर टैन्शन मत लीजिए..जो भी होगा, ठीक होगा.

    ReplyDelete
  8. आप चिंता न करे, इस उम्र में बच्चो में ये जोश और जूनून होता ही है. बेटे का आप्रेशन सफल होगा, इश्वर से यही प्रार्थना है
    Regards

    ReplyDelete
  9. बच्‍चों के तो कांटा भी चुभता है तो लगता है कि नश्‍तर हमारे दिल में ही लगा है। हम उस पीढी के लोग हैं जो बेकार में डाक्‍टरों की सेवा नहीं लेना चाहते लेकिन अब तो डाक्‍टर रोज की ही मांग बन गए हैं। चिन्‍ता ना करें, और उसे गधा भी नहीं कहें। ऐसी टूट-फूट तो चलती ही रहती है।

    ReplyDelete
  10. प्रार्थना और शुभकामना !

    ReplyDelete
  11. कुशल हाथों की देख-रेख में होगा...सब सफलतापूर्वक हो जाएगा..चिंता ना करें..
    हमारी शुभकामनाएं

    Get well soon little Champ :)

    ReplyDelete
  12. हम सब की शुभकामनाएँ आपके साथ हैं।

    ReplyDelete
  13. सब सही ही होगा. मुझे लगता है कि यह आपकी संवेदनशीलता है कि आप चिंतित हैं...बच्चे यूं ही करते हैं :)

    ReplyDelete
  14. कल इस गधे का आप्रेशन सही हो जाये, ओर घुटने का दर्द ठीक हो जाये आप सब इसे आशीर्वाद दे,

    लो बोलो घर में ही गधे हैं और हम बाहर से गधे बुलवाकर हद्गा सम्मेलन करवाने में लगे हैं?:)

    आप चिंता नही करें जी, आपरेशन बिल्कुल बेहतरिन होगा. शुभकामनाएं, आशीर्वाद और प्यार.

    रामराम.

    ReplyDelete
  15. ... sab achchhaa ho jaaye ... shubhakaamanaayen !!!

    ReplyDelete
  16. राज जी,
    ऑपरेशण ठीक होगा चिन्ता न करें।

    मेरे विचार में, किसी के लिये चाहे वह बेटा क्यों न हो ... शब्द का प्रयोग, वह भी सार्वजनिक रूप से, ठीक नहीं।

    ReplyDelete
  17. चिंता ना करें जी, सब ठीक ही होगा।
    बच्चों को ज्यादा फिक्र नहीं होती, लेकिन माता-पिता तो बच्चे की छोटी-छोटी चोटों, तकलीफों से घबरा ही जाते हैं।

    खैर करने दीजिये जी, इन्हें भी अपने शौक पूरे। यही उम्र है शरीर बनाने की और अच्छा भी है।

    बॉक्सिंग में घुटने पर कैसे चोट खायी?
    प्रणाम

    ReplyDelete
  18. Dont worry Bharia darling. Everything will be allright. love you darling n take care

    ReplyDelete
  19. जिंदगी में इस प्रकार के घटना क्रम होते ही है | आपके साथ हिन्दी बलोग जगत की शुब्कामनाए है | चिंता न करे सब ठीक हो जाएगा |

    ReplyDelete
  20. लेकिन मै भी हिम्मत नही हारा, ओर अगले हादसे के लिये मुकाबला करने के लिये वक्त से पहले ही हिम्मत जुटा लेता हुं.
    यही एक कामयाब इंसान की पहचान है

    ReplyDelete
  21. भाटिया जी, बेटे को गधा कह रहे हो।

    ReplyDelete
  22. इन नकली उस्ताद जी से पूछा जाये कि ये कौन बडा साहित्य लिखे बैठे हैं जो लोगों को नंबर बांटते फ़िर रहे हैं? अगर इतने ही बडे गुणी मास्टर हैं तो सामने आकर मूल्यांकन करें।

    स्वयं इनके ब्लाग पर कैसा साहित्य लिखा है? यही इनके गुणी होने की पहचान है। क्या अब यही लोग छदम आवरण ओढे हुये लोग हिंदी की सेवा करेंगे?

    ReplyDelete

नमस्कार,आप सब का स्वागत हे, एक सुचना आप सब के लिये जिस पोस्ट पर आप टिपण्णी दे रहे हे, अगर यह पोस्ट चार दिन से ज्यादा पुरानी हे तो माडरेशन चालू हे, ओर इसे जल्द ही प्रकाशित किया जायेगा,नयी पोस्ट पर कोई माडरेशन नही हे, आप का धन्यवाद टिपण्णी देने के लिये