15/10/10

ब्लांग मिलन

आप सब को यह सुचना देते समय मुझे बहुत खुशी हो रही हे, कि अगले महीने के तीसरे सप्ताह के अंत मै एक ब्लांग मिलन रोहतक शहर मे आयोजित किया जा रहा हे, रोहतक शहर दिल्ली से 70 किलोमीटर की दूरी पर हिसार रोड पर है, ओर हर पांच मिंट मे  बसे चलती हे, ओर आप सब ब्लांगरो से उम्मीद हे की ज्यादा से ज्यादा संख्या मै पहुच कर, इस मिलन को सफ़ल बनाये, इस ब्लांग मिलन मे आप सब अमत्रितं हे, बस इस ब्लांग मिलन का असली मकसद सिर्फ़ यही हे कि हम आपस मे मिले, जिन्हे हम टिपण्णियां देते हे, जिन के लेख पढते हे, क्यो ना उन सब से मिले.

इस ब्लांग मिलन मे कोई संगठन , युनियन या कोई ओर ऎसी बात नही होगी बस खाना पीना, बाते विचारो का आदान प्रदान ओर आपस मे मिलना जुलना होगा ओर ब्लांगिग से सम्बधित बाते होगी, सभी एक बराबर हे, ओर सब को हक होगा अपनी बात रखने, कहने का.

तो आईये ओर इस ब्लांग मिलन को एक बहुत सुंदर याद गार बनाये,एक ऎसी मिठी याद गार जो अपनी तरह से एक मिशाल बन जाये, अभी जगह, समय, ओर दिन बता पाना बहुत कठिन हे, क्योकि हमे खुद नही पता कि किस जगह प्रोगारम होगा, ओर किस समय, लेकिन मेरे भारत पहुचते ही इस पर मै ओर मेरे मित्र लोग काम शुरु कर देगे ओर आप लोगो को कम से कम एक सप्ताह पहले सब बता दिया जायेगा.

आप मित्रो से भी उम्मीद करते हे कि आप भी अपनी अपनी राय लिख भेजे, जो आप चाहते हे कि इस ब्लांग मिलन मे हो, याद रखे हम कोई संगठन या युनियन नही बना रहे, बस मिलने का एक बहाना चाहिये , सो एक बार आप सब से मिलना हो जायेगा इसी बहाने, ओर ब्लागिगं की बातो के अलावा भी ओर बहुत सी बाते होगी, चुटकले होगें, कविता होगी, शेर, बकरी, या कोई गजल या गीत गाना चाहे , कव्वाल भाई कव्वाली,या फ़िर भजन सब को समय मिलेगा.सब अपनी बात अपना हुनर दिखा सकते हे

लेकिन आप अभी से बताना शुरु कर दे कि कोन कोन आना चाहता हे, ताकि हम अपना सारा इंतजाम उसी हिसाब से करे, आप अपना नाम ओर मोबाईल ना० ओर किस जगह से आ रहे हे, लिख भेजे,आप मुझे मेल कर सकते हे
अधिक जानकारी के लिये आप को स्थानिया ब्लांगरो का मेल ओर फ़ोन ना० भी जल्द ही दिया जायेगा

55 comments:

S.M.MAsum said...

आज के ब्लोगेर्स अधिकतर कमेन्ट दूसरे ब्लॉग पे इसलिए करते हैं, की उनके ब्लॉग पे भी कमेन्ट आये. यह सही नहीं. अगर लेख़ सच मैं पढ़ा और कुछ कहना है, तो ही कमेन्ट करें.
और दूसरे किसी भी लेख़ की या शायरी की झूटी तारीफ ना करें.यह भी आज कल एक आम बात हो गयी है. आलोचना भी करें अगर बात से सहमत नहीं हैं तो. इस मीटिंग मैं यह दोनों मशविरे दिए जिएँ , तो ख़ुशी होगी

honesty project democracy said...

भाटिया साहब आपका विचार उत्तम है और इसी बहाने आपसे आमने-सामने मिलने का मौका मिलेगा ...वैसे मेरी राय में इस मिलन में ब्लोगिंग का जनहित में प्रभावी प्रयोग कैसे किया जाय और उसके लिए सुरक्षा का तंत्र भी कैसे बनाया जाय इस विषय पर गंभीर चर्चा हो तो मुझे ज्यादा आनंद आएगा ...

सतीश सक्सेना said...

एक टिकिट मुझे भी चाहिए ...आपके दर्शन भी हो जायेंगे !

ललित शर्मा said...

हम आपको हवाई अड्डे पर ही मिलेंगे,रोहतक साथ ही चलेंगे।
ओजी असी और तुसी,पिवांगे लस्सी।:)

ललित शर्मा said...

ਤੁਹਾਡੀ ਹੀ ਉਡੀਕਾਂ ਹੈਗੀ ਜੀ ਸਾਨੂ, ਤੁਹਾਨੂ ਉੰਨੀ ਤਾਰੀਖ ਨੂ ਰੋਹਤਕ ਮਿਲਾਂਗੇ.

dhiru singh {धीरू सिंह} said...

ईन्शा अल्लाह . समय मिला तो मै भी आउन्गा

'उदय' said...

... agrim badhaai va shubhakaamanaayen !!!

प्रवीण पाण्डेय said...

बहुत सुन्दर विचार।

गिरीश बिल्लोरे said...

राज़ दादा जी वहां अचार चटनी सलाद आदी पर खास और गन्भीर चर्चा के लिये मै सपत्नीक आना चाहता हूं. मेरे परिवार के लिये दो जोड़ा कुर्सी आरक्षित कीजिये . दो बच्चे भी साथ में आने वाले हैं. सब दादाजी से मिलना चाहते हैं. बच्चों के लिये जो जर्मनी से गिफ़्ट खरीदी है वो ले आइये भूलिये गा नहीं. अभनपुर वाले उदय आत्मज मूंच वाले भैया यानी ललित बाबू को भी गिफ़्ट का इन्तज़ार है.

गिरीश बिल्लोरे said...

भूल सुधार: अभनपुर वाले उदय आत्मज मूंच वाले भैया यानी ललित बाबू को भी गिफ़्ट का इन्तज़ार है.
मूंच=मूंछ

Rahul Singh said...

शुभकामनाएं, ललित जी की वापसी का इंतजार रहेगा.

भारतीय नागरिक - Indian Citizen said...

अति उत्तम प्रस्ताव

मनोज कुमार said...

शुभकामनाएं जी।
हम तो भजन गाएंगे! रोज़ ही गाते हैं -- भार्या भजन!

राम त्यागी said...

अरे वाह ! मैं भी भारत आने का विचार कर रहा हूँ, पर अभी डेट पक्की नहीं हैं ! अगर उस दौरान रहा तो जरूर मुलाक़ात होगी !

बाकी विचार होना चाहिए कि कैसे हिंदी में लिखना सरल बनाए जाए, कैसे स्मार्ट फोन का उपयोग करके हिंदी के संपर्क में रहा जाए , और कैसे स्वतंत्र विचारों का और हिंदी में ब्लॉग के माध्यम से प्रसार किया जाए ....

Udan Tashtari said...

आते हैं..फोन नम्बर तो भारत पहुँच कर सूचित कर देंगे.

डॉ. रूपचन्द्र शास्त्री मयंक (उच्चारण) said...

तारीख की घोषणा हो जाती तो अच्छा था!

डॉ टी एस दराल said...

भाटिया जी , आप अगले महीने आ रहे हैं , यह तो अच्छी खबर है । फिर तो मुलाकात अवश्य होगी । शुभकामनायें ।

संजय भास्कर said...

शुभकामनाएं,........इंतजार रहेगा.

संजय भास्कर said...

Lalit ji bahut hi achi khabar batai aapne.........

काजल कुमार Kajal Kumar said...

शुभकामनाएं.

Udan Tashtari said...

दशहरा की हार्दिक बधाई एवं अनेक शुभकामनाएँ

राजीव तनेजा said...

सुस्वागतम

जी.के. अवधिया said...

इस मिलन समारोंह की सफलता के लिए शुभकामनाएँ!

ajit gupta said...

अर्थात नवम्‍बर के अन्‍त में आयोजित है ब्‍लागिंग सम्‍मेलन। आपको अग्रिम बधाई। राज जी आप भारत आ रहे हैं तो एक निमंत्रण हमारा भी स्‍वीकार करें, उदयपुर का। समय निकालकर कार्यक्रम अवश्‍य बनावें।

ताऊ रामपुरिया said...

श्रेष्ठ विचार, दुर्गा नवमी एवम दशहरा पर्व की हार्दिक बधाई एवम शुभकामनाएं.

रामराम.

ZEAL said...

.

यदि ' अदरक की चाय ' का भी इंतजाम हो तो मेरा आना भी सफल हो जायेगा। सफल आयोजन के लिए शुभकामनाएं

.

अन्तर सोहिल said...

वाह!
सचमुच, मजा आ जायेगा।

प्रणाम

नरेश सिह राठौड़ said...

आप जैसे सगुणी लोगो का सानिध्य कौन नहीं पाना चाहेगा | ये तो हम जैसे लोगो के सौभाग्य की बात है | हमारा आना आपकी दी गयी तारीख पर निर्भर करेगा | अगर उस दिन इस मुलाक़ात से ज्यादा जरूरी काम ना निकल आया तो जरूर आयेंगे |

राज भाटिय़ा said...

कुछ लोग इसे एक मजाक समझ रहे हे, शायद, लेकिन ऎसा नही, इस ब्लांग मिलन की तारीख हम( मै अकेला नही) मेरे भारत पहुचते ही दुसरे या तीसरे दिन आप सब को पोस्ट से बता देगें,
@ राम त्यागी जी मै भारत मे बहुत कम समय के लिये आ रहा हुं, शायद १०,१४ दिनो के लिये, इस का कारण इस बार भी मुझे अकेले को ही आना पड रहा हे, १० नवम्बर से २८ नवम्बर के बीच मैने कुछ दिन रहना हे, ज्यादा समय रोहतक ओर बाकी दिल्ली मे व्यातीत होगा,आप अपना भारत पहुचने का समय बता दे देखु उस समय मै भारत मे रहुंगा या नही, मुझे सीट इस पोस्ट वाले दिन ही मिली, अब टिकट के जमाने तो लद गये.
@ZEAL ,गिरीश बिल्लोरे जी आप आये तो सही, जेसी चाय चाहेगे मिलेगी, वेसे मेरे पास रहने के लिये मकान तो हे, लेकिन उस मे समान नही कुछ भी नही, लेकिन सब हो जायेगा, ओर फ़िर चाय, अचार चटनी सब आज कल बाजार से मिल जाते हे,
अजित गुप्ता जी धन्यवाद आप ने निमंत्रण का सर माथे पर, अभी तो जिस काम के लिये आ रहा हुं, सब से पहले उस पर मेरा ध्यान रहेगा, फ़िर बहुत अन्य साथियो के निमंत्रण भी मिले हे, सब जगह जाना कठिन होगा, अगर इस बार ना आ पाया तो अगली बार परिवार के संग जरुर आऊंगा, आप सब का धन्यवाद,
आप सब की राय मै नोट कर रहा हुं सभी विचार ओर सुझाव अच्छे लगे,

अजय कुमार झा said...

सिर्फ़ एक बात की .........मैं उसमें शामिल होऊंगा ..

Alok Mohan said...

मै भी आ सकता हु क्या?
या कोई पास होना चाहिए
बहुत अच्छा लेख आभार
हमारा भी ब्लॉग पड़े और मार्गदर्शन करे
http://blondmedia.blogspot.com/2010/10/blog-post_16.

shikha varshney said...

शुभकामनाये.आयोजन सफल हो.

rashmi ravija said...

बहुत ही अच्छे विचार हैं....सफल आयोजन की शुभकामनाएं...

PADMSINGH said...

बहुत अच्छा रहेगा सब से मिल कर ... पच्चीस नवम्बर के बाद हुआ तो अवश्य मिलना होगा हम सब का ... शुभकामनाएँ ब्लॉग मिलन के लिए

S.M.MAsum said...

इतने ब्लोगेर्स से मिलने का अवसर मिले तो कौन नहीं आता चाहेगा?

डॉ महेश सिन्हा said...

हार्दिक शुभकामनाएँ

मुन्नी बदनाम said...

hi Bhatia draling I am also reaching there. Book one suit room for me also...love you darling

संजय भास्कर said...

इस मिलन समारोंह की सफलता के लिए शुभकामनाएँ!

संजय भास्कर said...

सफल आयोजन की शुभकामनाएं.

सुंदर प्रस्तुति
आपको
दशहरा पर शुभकामनाएँ

सिद्धार्थ शंकर त्रिपाठी said...

तारीख पक्की हो जाय तो अपना कार्यक्रम भी पक्का बताऊंगा। मन तो आने का है ही।

पं.डी.के.शर्मा"वत्स" said...

भाटिया जी, हम तो जी जरूर आएगें....

हरकीरत ' हीर' said...

राज़ जी ये मुन्नी बाई का क्या चक्कर है .....?
हमें तो कुछ कला कला सा दिख रहा है .....
और ड्रेस क्या तस्वीर वाला पहन कर आना पड़ेगा ......
हा...हा...हा.....

प्रवीण त्रिवेदी ╬ PRAVEEN TRIVEDI said...

शुभकामनाएँ

डॉ. मोनिका शर्मा said...

विजयदशमी की शुभकामनायें.... इस ब्लोगेर मीट के लिए भी शुभकामनायें.....

S.M.MAsum said...

आप सब को बुराई पर अच्छाई की जीत का प्रतीकात्मक त्योहार दशहरा की शुभकामनाएं. आज आवश्यकता है , आम इंसान को ज्ञान की, जिस से वो; झाड़-फूँक, जादू टोना ,तंत्र-मंत्र, और भूतप्रेत जैसे अन्धविश्वास से भी बाहर आ सके. तभी बुराई पे अच्छाई की विजय संभव है.

adbiichaupaal said...

ब्लागर्स मीट के बारे जानकारी मिली. कोशिश करूंगा आप के दीदार हासिल हो जाएं. आपको पढ्ता रहता हूं. पहली बार टिप्प्डी देने की हिम्मत की है.
आशा है अब आप से मुलाक़ात होती रहेगी.

वन्दना अवस्थी दुबे said...

विजयादशमी की अनन्त शुभकामनाएं.

इस्मत ज़ैदी said...

विजय दशमी की बधाई और शुभकामनाएं

नीरज जाट जी said...

सुणो भई सभी।
भाटिया जी बहुत दिन बाद अपने वतन आ रहे हैं। स्वागत में कोई कसर नहीं रहनी चाहिये। किसी का कोई बहाना नहीं चलेगा।
ट्रेनें बहुत चलती हैं दिल्ली से रोहतक के लिये, सिर्फ़ ग्यारह रुपये का टिकट लगता है। डेढ दो घण्टे लगते हैं। मैं तो भाटिया जी के पूरे प्रवास के दौरान रोहतक से ही अप-डाउन करने की सोच रहा हूं।
और हां, अदरक वाली चाय मिले या ना मिले लेकिन मूंगफली का आनन्द जरूर मिलेगा वो भी कंजूस मुसाफ़िर जाट की तरफ से फ़्री में।

आओ, भाटिया जी। देखते हैं कौन नहीं आता इस सम्मेलन में।

राज भाटिय़ा said...

नीरज भाई मुझे साथी चाहिये भी जो मेरे संग रोहतक रुक सके, अगर आप ऎसा करेगें तो मुझे बहुत खुशी होगी, मेने आते ही सोने का इंतजाम कर ही लेना हे, इस बार अपने घर ही सोना भी हे, आप का स्वागत हे धन्यवाद

Mumukshh Ki Rachanain said...

मिलन समारोह की हार्दिक शुभकामनाएं...........

इसके लाइव कवरेज का इंतजार रहेगा.............



चन्द्र मोहन गुप्त

ajit gupta said...

नीरज की टिप्‍पणी पढ़कर दोबारा आयी हूँ। तो नीरज मेट्रो चलवा रहे हो क्‍या रोहतक तक? भाई हमें भी बता देना कौन कौन सी ट्रेन हैं दिल्‍ली से। तुम्‍हारी मूंगफली का आनन्‍द लेने की सोच ही रहे हैं।

Manoj K said...

ऐसे ही किसी सम्मलेन में सब ब्लॉगर्स से मिलने की इच्छा हमारी भी है. हमारा नाम भी लिख लीजिए.

मनोज
जयपुर

महेन्द्र मिश्र said...

सीट रिजर्व तो नहीं है ... की पहले आयें और पहले पायें .... अभी कल सुबह तो ग्वालियर से लौटा हूँ ... सर मेरा नंबर तो पहले से आपके मोबाइल में फीड है ...

Mrs. Asha Joglekar said...

Are ye to badi achchi khabar hai. Samaroh men aane kee ichcha to hia dekhate hain.