08/06/09

ब्लांगरो आप मदद करो ना


नमस्कार आप सभी को, मुझे दो तीन लोगो की शिकायत आई कि आप के ब्लांग पर टिपण्णी देने मै कठिनाई आ रही है, फ़िर मेने अपने सभी ब्लांग से कुछ विजेट हटा दिये, लेकिन आज फ़िर से निर्मला जी का मेल मिला तो अब मुझे थोडी फ़िक्र हुयी, ओर सोचा चलो अब नया टेमपलेट बदल लूं ? लेकिन फ़िर अपने आप से सवाल किया कि कोन से ब्लांग का ?
कृप्या आप सब से प्रार्थना है कि आप लोग मुझे बताये मेरे किस ब्लांग पर आप लोगो को कठिनाई आ रही है, वेसे आज मेने सारे ब्लांगो पर थोडा थोडा हाथ फ़ेरा है,शायद दिक्कत दुर हो गई होगी, अगर नही तो जरुर बताये यह दिक्कत कोन से ब्लांग पर आ रही है.
इस पर जहां आप अभी है ?
या फ़िर
नन्हे मुन्हे पर

या फ़िर
मुझे शिकायत है पर

या फ़िर छोटी छोटी बाते पर

जरुर बताये वरना मेरा हाल ऊपर दिये चित्र की तरह से ही होगा ??

27 comments:

श्यामल सुमन said...

चित्र देखकर डर गया कहीं हमारे राज भाई का ये हाल न हो जाय। अतः तत्काल लिख रहा हूँ कि मुझे तो कोई दिक्कत नहीं होती सिवाय इसके कि ब्लाग थोड़ा देरी से खुलता है। लेकिन भाई चित्र जैसा मत बनियेगा यह आग्रह है।

सादर
श्यामल सुमन
09955373288
www.manoramsuman.blogspot.com
shyamalsuman@gmail.com

बी एस पाबला said...

भाटिया जी ये ब्लॉग तो देर से खुलता है और स्क्रॉल करने में भी दिक्कत है

रंजन said...

देर तो कुछ लगती है.. पर टिप्पणी सभी जगह हो रही है..

ज्ञानदत्त पाण्डेय | Gyandutt Pandey said...

ये पाबला जी सही कह रहे हैं।

Pt.डी.के.शर्मा"वत्स" said...

हमें तो आपके किसी भी ब्लाग में दिक्कत नहीं आई..... लेकिन तस्वीर देखकर हम तो यही सोचे थे कि कहीं भाटिया जी कोई योग साधना तो नहीं करने जा रहें।

ज्ञानदत्त पाण्डेय | Gyandutt Pandey said...

अब जरा सिर जमीन से निकाल लें! :-)

ताऊ रामपुरिया said...

पहले आती थी. अब नही है. ये ऐसा लगता है कि ब्राऊजर की समस्या है. मौजिल्ला मे आराम से खुल जाता है और ईंटरनेट एक्सपलोरर मे देर से खुलने की दिक्कत कुछ ब्लागस मे आरही है.

वैसे इतनी कठिन योगसाधना अब इस उम्र मे मत करने लग जाईयेगा ये समझ कर कि साधना से ब्लाग ठीक हो जायेगा. इस योगसाधना से ब्लाग ठीक नही होने का.:)

रामराम.

सिद्धार्थ शंकर त्रिपाठी said...

यहाँ तो सब बिन्दास है जी। फिकर मती करो।

मेरे ब्लॉग सत्यार्थमित्र (http://satyarthmitra.blogspot.com )पर शीर्ष टिप्पणीकारों का विजेट गलत आँकड़ा बता रहा है। कोई मदद करे न..!

venus kesari said...

हाय राम :()
वीनस केसरी

अल्पना वर्मा said...

main to apni kisi bhi tarah ki tech samsya ke samaadhan ke liye Ashish ji ke hindi blog tips par pahunch jaati hun--wahin se turant samaadhan mil jata hai.

waise abhi to koi samsya nahin aa rahi lekin..aap ka paheliyon wala[[mujhey shikayat hai --load hone mein samay leta hai.is waqt yah bhi internet explorer mein theek khula hai...

last time isey mozilla mein open kiya tha tabhi comment kar payi thi..

waise Inetrnet explorer ka 8 edition bahut pareshaan kar raha hai..shayad browers ke kaaran samsya readers ko aa rahi ho.
[-waise yah picture daraa rahi hai!]

Ratan Singh Shekhawat said...

ब्लोग खुलने मे ज्यादा दिक्कत तो नही आई लेकिन इसे खोलने मे मोजिला को पुरी ताकत जरुर लगनी पड गई |

Udan Tashtari said...

हमें तो ठीकठाक खुला!

उन्मुक्त said...

अरे टिप्पणी तो हो रही है। अब तो सर बाहर निकालिये :-)

AlbelaKhatri.com said...

bhatiyaji badhaai ho....
mujhe koi dikkat nahin aayi,HA HA HA HA

MAYUR said...

आपकी जानिबे मंजिल में लगा ये टेम्पलेट खूबसूरत है, और चिटठा भी

Abhishek Mishra said...

Tippani dene mein to kabhi dikkat nahin aai, haan yeh Blog khulne mein samay jyada jarur lagta hai.

jayaka said...

' Muze shikaayat hai' mai tippani dene mein thodi dikkat ho rahi hai...fir bhi mushkil se hi sahi...di jaa sakti hai!

... aur han!...yeh to ussi chukule waale bhikhaari ki tasveer lag rahi hai!...ha, ha, ha!

RAJ SINH said...

कोई दिक्कत नहीं है राज जी !
आप शीर्षासन जरूर करें , स्वास्थ्य के लिए अच्छा है पर चेहरा दीखता रहे . इस आसन में कृपया ' प्राणायाम ' न शामिल करें :) .

' हठ योग ' हो जायेगा .:):)

हिमांशु । Himanshu said...

अभी टिप्पणी लिखने में थोड़ी देर तो जरूर हुई, पर इतना धैर्य रखा जा सकता है । बाकी सब ठीक है ।

Mrs. Asha Joglekar said...

इस ब्लॉग पर तो कोई परेशानी नही है औरो पर जाकर देखते हैं ।

Archana said...

देर से खुला टिप्प्णी का बक्सा बस इसके अलावा कोई परेशानी नही हुई ।

Science Bloggers Association said...
This comment has been removed by the author.
डा० अमर कुमार said...


मैंने बड़े दिनों से आपको टिप्पणी ही न दी, भला मैं क्या लिखूँ ?
ताज़्ज़ुब तो यह है, कि...
" मुझे शिकायत है " के ब्लागस्वामी से ही जनता को शिकायत है, भई वाह !

mahashakti said...

मुझे तो कोई दिक्‍कत नज़र नही आयी।

Babli said...

मैं तो बड़ी आसानी से आपका ब्लॉग खोल पाई और टिपण्णी देने में बिल्कुल भी देरी नहीं हुई!

आकांक्षा~Akanksha said...

Nothing...no any problem.Its OK.

Science Bloggers Association said...

अदभुत।
-Zakir Ali ‘Rajnish’
{ Secretary-TSALIIM & SBAI }