21/03/08

आज मीठी लगे हे तोरी गाली रे...

आइये कुछ होली के छींटे हमे मारे, ओर कुछ हम भी रंग मले आप को, तो तेयार हे हम संग होली खेलने कॊ, तो...आज मीठी लगे हे तोरी गाली रे
आप सब कॊ होली की शुभकामनये, होली के रंगो की तरह से आप का जीवन भी रंग से भर उठे.

5 comments:

मीत said...

वाह भाई वाह ! बहुत सही. यही गीत तो खोज रहा था. मज़ा आ गया.
होली की शुभकामनाएं.

पंकज अवधिया Pankaj Oudhia said...

आपको होली की हार्दिक शुभकामनाए।

जोशिम said...

आपको और परिवार को - होली की शुभ कामनाएं

परमजीत बाली said...

अच्छा गीत है।आपको होली की शुभकामनाये॥

राज भाटिय़ा said...

आप सब का बहुत बहुत आभार.