21/03/08

तोरा मन दर्पण कहलये रे....

आज आप को सुनाता हु एक ओर सुन्दर ओर मन भावन भजन जो लिया गया हे फ़िल्म काजल से, गाने को बोल दिये हे आशा जी ने, ओर पर्दे पर गा रही हे मीना कुमारी... तोरा मन दर्पण कहलये रे..




4 comments:

कुन्नू सिंह said...

"!होली की शुभकामनायें!" बधाई भि
मेरा पेपर कुछ कम अच्छा गया पर पास हो जाउंगा।
पर्ची चला और मै तो पूरी "उत्तर वाला किताब" ले गया था। होली की शुभकामनायें.
पासवर्ड रीक्वरी मे 5 मीनट लगता है

(कल मेरा कम्प्युटर ज़बर्जस्त हैंग हो गया था उश्का ईलाज कर्ने मे बहुत टाईम लग गया और आज सुपर फ़ास्ट चल रहा है)

Dr.Parveen Chopra said...

भाटिया जी, आप को भी होली की बहुत बहुत मुबारकबाद । परमात्मा से यही प्रार्थना है कि वह आप की ज़िंदगी में हरियालीयां, खुशहालियां हमेशा लाता रहे।

mehek said...

holi mubarak

राज भाटिय़ा said...

आप सब का धन्यवाद.