26/02/08

कुछ चटपटा ना हंसो तो माने

पति, होटेल मेनेजर से..जल्दी चलो मेरी बीबी खिडकी से कुद कर जान देना चाहती हे.
होटेल मेनेजर..लेकिन इस मे हम कया कर सकते हे ?
पति.. अबे कमिने वो खिडकी नही खुल रही..
********
एक गुन्डे का बेटा जबानी टेस्ट मॆ फ़ेल हो गया, घर आ कर गुन्डे बाप को सफ़ाई देने लगा...
सालो ने ३ घण्टे पुछ्ताश की हम भी तेरी ओल्लद हे अपुन ने मुहं नही खोला.
********
लालू ने पुछा यह सब दोड कयो रहे हे,
साथ बेठे आदमी ने जबाब दिया यह दोड प्रयोगिता हे जीतने वाले कॊ सोने का कप मिले गा
लालू जी बोले ठीक हे भाई जीतने वाले को सोने का कप मिले गा, लेकिन यह बाकी कयो दोड रहे हे.
*********
एक आदमी की लडाकू ओर झगडालू बीबी मर गई,अब वो आदमी उसे फ़ुक फ़ाक कर घर आया,जब सब लोग चले गये अफ़सोस कर के, तो आदमी ने थकवट दुर करने के लिये एक पेग डाला.पेग अभी मुह से लगा था, बाहिर बडे जोर से बिजली कडकने की आवाज आई,तो आदमी खुदी से बोला, लगता हे साली ऊपर पहुच गई.

2 comments:

मुनादीवाला said...

आपका नया खुलाचिट्ठा कोई मेंबरशिप नहीं
यहॉं सब एकदम खुला...भड़ास क्‍या जो चाहे निकालो। कोई मेंबर ऊंबर नहीं बनना कोई झंझट नहीं। अरे कोई पार्टी खोले हैं कि एमपी बनना है। चैनलहू नहीं खोलना। तो काहे मेंबरशिप। जो यार लिखना चाहे सीधे khulachittha.post@blogger.com पर मेल करदे। पोस्‍ट सीधे अपने आप छप जाएगी, हमारे पास नहीं आएगी सीधे ब्‍लॉग पर जाएगी। डायरेक्‍ट आपही मालिक हर लिखे के, कोई झंझट नहीं कोई गिनती नहीं कि आज इतने हो गए आज उतने। तो फिकर काहे की, हो जाओ शुरू।
http://khulachittha.blogspot.com/

Udan Tashtari said...

हंस रहे हैं भाई..अब मान लो.