21/02/11

ताऊ ओर ताऊ का राम प्यारे

कल ताऊ का राम प्यारे मेले मे खो गया.... ताऊ ने मंदिर मे जा कर भगवान का धन्यवाद किया, मैने ताऊ से पूछा अरे ताऊ जी आप का कीमती गधा *राम प्यारे* खो गया , ओर आप बहुत खुश हो रहे हे? भगवान का धन्यवाद कर रहे हे, ओर प्रसाद बांट रहे हे?  यह सब क्यो?

ताऊ जी बोले राज भाटिया मै भगवान का शुक्र इस लिये कर रहा हुं कि मै गधे पर नही बेठा था, वर्ना........ पहेली कोन पुछता?

37 comments:

अन्तर सोहिल said...

ताऊ जी से कहियेगा उनका रामप्यारे 26 फरवरी को उनके पास पहुँच जायेगा :)

प्रणाम

अन्तर सोहिल said...

@ राज भाटिया जी

आपके ब्लॉग पर टिप्पणी के लिये क्लिक करते ही यह लिंक नई विंडो में खुल जाता है जी।
http://www.travian.in/?ad=10235_1114950120&ce_cid=000xQThuiAFQ15N.nv5Y6sU4bH000000

ऐसा मेरे साथ ही होता है या सबके साथ हो रहा है। कृप्या चैक करवायें। ऐसा ही आपके दूसरे ब्लॉग पर भी होता है।

amit-nivedita said...

i wish you get back him bv 29th feb. 2011.

डॉ. रूपचन्द्र शास्त्री मयंक (उच्चारण) said...

अब तो ताऊ को ईनाम देना चाहिए!

पी.सी.गोदियाल "परचेत" said...

हा-हा-हा-हा , हमारा इकलौता बेचारा ताऊ भी गुम हो जाता !

Tarkeshwar Giri said...

तावु तो पूरी तरह से ताव में दिख रहे हैं.

ZEAL said...

.


भगवान् का लाख लाख शुक्र है कि ताऊ जी गधे पर नहीं बैठे थे , वर्ना हम ब्लोगर्स का क्या होता ? एक ताऊ ही तो हैं हमारे तारणहार ।

मस्त पोस्ट है भाटिया जी !

.

संजय बेंगाणी said...

ताऊ शुरू से ही घणा समझदार रहा है.

ajit gupta said...

ताऊ वास्‍तव में ही घणा समझदार है।

sagebob said...

बहुत मजेदार.
सलाम

सोमेश सक्सेना said...

ओ जी ताऊ बच गया बड़ी खुशी की बात है। नहीं तो छीछालेदर की दुकान कौन चलाता?

Mithilesh dubey said...

बहुत ही उम्दा रचना , बधाई स्वीकार करें .

आइये हमारे साथ उत्तरप्रदेश ब्लॉगर्स असोसिएसन पर और अपनी आवाज़ को बुलंद करें . फालोवर बनकर उत्साह वर्धन कीजिये

ताऊ रामपुरिया said...

ओह अब समझ आया कि मैं घर देर से क्यों पहुंचा था और किसने रामप्यारे को गायब किया था.

रामराम.

दिनेशराय द्विवेदी Dineshrai Dwivedi said...

भाटिया जी, लगता है ताऊ की संगत का असर आप में भी आ गया। जब ताऊ आप को मिला और आप ने सवाल किया तब वो रामप्यारे पर ही बैठा था।

BrijmohanShrivastava said...

सरजी चूंकि मजाक का रिश्ता नहीं है,और स्वभावत बुरा लगने वाला बात है इसलिये यह तो नही कह सकता कि वर्ना .........लोग पूछने पता ही नही चल रहा किस पर कौन बैठा है लेकिन चूकि होली के पहले ही आपने वह माहौल पैदा कर दिया है इसलिये क्षमा प्रार्थना के साथ ।

मनोज कुमार said...

मज़ेदार!
हा-हा-हा ...

सुरेश शर्मा (कार्टूनिस्ट) http://cartoondhamaka.blogspot.com/ said...

वाह! शानदार ! :) :) :) :) :) :) !

rashmi ravija said...

हा हा ...बहुत ही मजेदार :):)

भारतीय नागरिक - Indian Citizen said...

चलिये अन्ततोगत्वा, ताऊ खोए तो नहीं न...

shikha varshney said...

अब ताऊ तो है ही समझदार.

वाणी गीत said...

ताऊ को पूर्वाभास हो गया था रामप्यारे के खोने का !

OM KASHYAP said...

ha ha
bahut khub tau ji

डॉ॰ मोनिका शर्मा said...

इस घणी समझदारी के लिए बधाई के पात्र हैं ताऊ ... :)

anshumala said...

ताऊ को कहिये की पुरे ब्लॉग जगत को भोज कराये नहीं तो अगली बार बच जायेंगे इसकी गारंटी नहीं है |

ZEAL said...

.

भाटिया जी ,

'ब्लॉग परिवार' का चिन्ह बदल दिया गया है क्या ? कृपया जानकारी दें । मेरे ब्लॉग पर पहले से भिन्न एक नया चिन्ह दिख रहा है । क्या पुनः रजिस्टर करवाना होगा ? कहीं ये किसी तकनिकी गड़बड़ी के कारण तो नहीं हो रहा ? क्या करना चाहिए , कृपया मार्ग दर्शन करें ।

.

खबरों की दुनियाँ said...

सच कहा है ZEAL ने भगवान् का लाख लाख शुक्र है कि ताऊ जी गधे पर नहीं बैठे थे … वर्ना…

सुशील बाकलीवाल said...

गनीमत है ताऊ बच गये.

सतीश सक्सेना said...

बड़ा प्यारा फोटो खींचा है किसी ने..... फोटोग्राफर को पुरस्कृत करना चाहिए भाटिया जी !

संजय भास्कर said...

बहुत ही मजेदार....ताऊ तो है ही समझदार.

देवेन्द्र पाण्डेय said...

ताऊ के पास गधों की क्या कमी ! एक गुम दूसरा हाजिर।

देवेन्द्र पाण्डेय said...

ताऊ के पास गधों की क्या कमी ! एक गुम दूसरा हाजिर।

ज्ञानचंद मर्मज्ञ said...

मजेदार पोस्ट

ज्योति सिंह said...

behad majedaar baate.

Kunwar Kusumesh said...

तो वो भी खो जाते...................हा हा हा............

Kajal Kumar said...

लेकिन इस गधे की खो जाने की हिम्मत कैसे हुई !

शालिनी कौशिक said...

bahut roochikar..

Smart Indian - स्मार्ट इंडियन said...

चलो अच्छा हुआ कि ताऊ जी बच गये।