15/07/08

बापू के तीन बन्दर

बापु के जमाने के
नये जमाने के

14 comments:

महेंद्र मिश्रा said...

BAHUT BADHIYA CHITR. RAAJ JI PAHALE KE BANDAR ADARSHAVADI THE SATY OR AHINSA ME VISHWAS KARTE THE . PARANTU AAJ KE ADHUNIK BANDAR VO BHI MOBILE DHARI KHATARANAK HO GAYE HAI .KANO ME MOB. CHIPAKAYE RAHATE HAI. BHAI ANAND AA GAYA.

advocate rashmi saurana said...

are vha naye vale bandar to bhut badhiya hai.

Gyandutt Pandey said...

हाई-टेक बापू, हाई-टेक बन्दर!:D

Udan Tashtari said...

:) Sahi hai.

दिनेशराय द्विवेदी said...

क्या तुलना है?

रंजना [रंजू भाटिया] said...

सही कलयुगी बन्दर हैं :) समय के साथ चलना जानते हैं :)

परमजीत बाली said...

बहुत बढिया !!

कामोद Kaamod said...

:))

अबरार अहमद said...

बहुत खूब।

अभिषेक ओझा said...

वाह वाह, कमाल के बन्दर हैं !

P. C. Rampuria said...

ये सै असली बंदर तो ! पहले आले तो नकली थे !

Anil Pusadkar said...

sach sirf sach

rakhshanda said...

ज़माना बदल गया है भई,जब सब ज़माने के साथ चल रहे हैं तो बन्दर क्यों नही, बहुत खूब राज जी...

राज भाटिय़ा said...

आप सब का दिली स्वागत, ओर धन्यवाद