15/07/08

कुछ खाटे कुछ मीठे

हीरोइन ने अपनी मम्मी से पूछा-"मैं जिस फ़िल्म की शूटिंग आजकल कर रही हू उसके हीरो और विलेन दोनो ही मुझसे शादी करना चाहते हैं, असल ज़िंदगी के लिए कौन सा पति की भूमिका मे फ़िट रहेगा" माताज़ी ने अपना संपूर्ण अनुभव इस्तेमाल करते हुए नेक सलाह दी-"बेटी, मेरी मान तो विलेन से शादी कर ले क्योंकि हीरो को तो पीटने की आदत होती, है जबकि विलेन पिट कर भी हँसता रहता है
*********************************************
एक फ़िल्मी हीरोइन जीवन में पहली बार समुद्र की यात्रा पर गई यहाँ पेश हैं उसकी निजी डायरी के अंश,18 अक्तूबर आज मैं पहली बार समुद्र में इतनी दूर तक गई . भय के कारण मैं अपने केबिन से ही नही निकली . 19 अक्तूबर आज मैं हिम्मत कर के पहली बार देक तक गई , बहुत मज़ा आया . 20 अक्तूबर आज जहाज़ के कप्तान ने मुझे कोफ़ी पिलाई और पूरा जहाज़घुमया. 21 अक्तूबर आज कप्तान ने मुझे रात को अपने कमरे में आने का न्योता दिया. मैने इनकार कर दिया तो उसने पूरे जहाज़ को डुबो देने की धमकी दी. 22 अक्तूबर----मैने 1500 लोगों की जान बचा ली.
*********************************************************
एक दफ़ा किसी इंटरव्यू मे मिसेज़ संता से पूछा गया -- "आप की निगाह मे पति क्या है"? "पति, पति तो एकदम उल्लू होता है", मिसेज़ संता का निर्भीक उत्तर था ."कैसे-कैसे"? एक साथ कई सवाल उठे . "बात बिल्कुल सीधी सी है, पति को बीबी के सारे गुण रात के अंधेरे मे ही जो दिखाई देते हैं". मिसेज़ संता का बोल्ड जवाब था.

8 comments:

महामंत्री-तस्लीम said...

सादे मगर धारदार चुटकुले हैं।
बधाई।

P. C. Rampuria said...

भाटिया जी इब तो थारे ब्लॉग पे चुटकले पढ़ने
रोज ही आना पडेगा ! घने मस्त सै थारे चुटकले तो !
धन्यवाद !

अनुराग said...

bahut badhiya....

नीरज गोस्वामी said...

भाटिया जी स्वाद आ गया चुटकले पढ़ के...वाह जी वाह.
नीरज

महेंद्र मिश्रा said...

मस्त चुटकले हैं वाह
धन्यवाद !

Udan Tashtari said...

1500 लोगों की जान बचा ली.
-hiroin ko sadhuvaad!!! :)

pallavi trivedi said...

nice jokes...

राज भाटिय़ा said...

आप सब का धारदार धन्यवाद