19/07/08

फ़र्क

क्या आप को शुक्रवार ओर सोमवार मे कोई फ़र्क नजर आता हे ? क्या कहा कुछ नही ? अरे आप कया कह रहे हे, जी आ शुक्र वार तो शुक्र वार होता हे ओए सो.... , अजी यह नही कुछ ओर, आप कह रहे हे कुछ समझे नही, कोई बात नही नीचे खुद ही देख ले,
चेतावनी: कुछ नही बस दिल थाम के देखे.

8 comments:

P. C. Rampuria said...

बहुत मजेदार है ! मजा आया !

परमजीत बाली said...

बहुत बढिया!!

कामोद Kaamod said...

मजेदार:)

अभिषेक ओझा said...

बहुत बढ़िया.. और हमें तो सोमवार और शुक्रवार में जो फर्क दीखता है क्या बताएं, ये कमबख्त सोमवार फिर आने वाला है :(

Gyandutt Pandey said...

अरे, आपने तो हमारे मन की बात कह दी भाटिया जी! और कल ही तो है मण्डे - बहुत अनिच्छा से दिन प्रारम्भ करेंगे। ग्रिजली भालू की तरह!

दीपक said...

मजेदार बहुत सही है !! आभार

राज भाटिय़ा said...

आप सभी का बहुत बहुत धन्यवाद

Udan Tashtari said...

हा हा!! बहुत बढ़िया..