03/03/08

तुफ़ान मे घिरा प्लेन (१,३,२००८ )

शनिवार १ मार्च २००८ को हेमवुर्ग जर्मनी मे तुफ़ान इतना तेज था कि शव्दो मे बताना भी मुस्किल हे. हां आप खुद देखे लुफ़्तहन्सा ( जर्मनी) का एक प्लेन जिस मे १३१ यात्री थे तुफ़ान मे फ़स गया था, प्येलेट की सुझवुझ से दुर्घटना से केसे बचा. ओर जो लोग इस मे बेठे थे उन पर कया बीती होगी???

2 comments:

Udan Tashtari said...

गजब गजब...बर्वो तो पायलट..वाह!! क्या सूझबूझ का परिचय दिया है./

SUNIL DOGRA जालि‍म said...

वह...इसपर अब क्या कहा जाए ....