07/03/08

हमारा हेरी

हेरी जी यही नाम रखा हे हम ने उस का,बच्चो के जन्म दिन का उपहार हे,सभी बच्चे इसे बहुत प्यार करते हे, यह भी तो बहुत सीधा साधा हे,ओर बच्चो से प्यार भी बहुत करता हे, देखने मे थोडा डरवाना हे,लम्बा चोडा,लेकिन दिल बच्चो का हे, बच्चे इस के साथ नई खेले खेलते रहते हे, पिछले दिनो एक नया खेल,आप भी देखे, ओर हा यह हिन्दी पुरी तरह से समझता हे,




1 comment:

इंदु पुरी गोस्वामी said...

हेरी! डेडी गंदे हैं. बेलून इतना उपर लटका दिया और अब तुमसे मेहनत करवा रहे हैं फ़ोकट की.एक काम करो,पूछो क्या देंगे इस काम का?
हम इंडियंस फ्री में कोई काम नही करते. इमोशनली कोई हमे भले ही हमे मूर्ख बना ले.ईसलिए कम से कम तुम इमोशनल मूर्ख मत बनो.
सच मैं तो ऐसिच हूँ.
प्यार से सब बेवकूफ बना सकते हैं मुझे भी.
हा हा हा