08/02/08

ख़रीददारी कीजिए 'राम' देकर

यह समाचार BBC Hindi.com पर शुक्रवार, 07 फरवरी, 2003 को छपा था, आप चाहे तो यहां से सीधे इस समाचार पर सीधे पहुच सकते हे..



ख़रीददारी कीजिए 'राम' देकर
नीदरलैंड में अब यह मुद्रा भी चलती है
महर्षि महेश योगी की मुद्रा ''राम'' को नीदरलैंड में क़ानूनी मान्यता दे दी गई है.''राम'' नाम की इस मुद्रा में चमकदार रंगों वाले एक, पाँच और दस के नोट हैं.इस मुद्रा को महर्षि की संस्था ''ग्लोबल कंट्री ऑफ वर्ल्ड पीस'' ने गत वर्ष अक्टूबर में जारी किया गया था.
महेश योगीतभी से तीस गाँवों और शहरों की सौ से अधिक दुकानों में ये नोट चल रहे हैं. इन दुकानों में कुछ तो बड़े डिपार्टमेंट स्टोर श्रृँखला का हिस्सा हैं.डच सेंट्रल बैंक ने कहा है कि ''राम'' का उपयोग अब क़ानून का उल्लंघन नहीं होगा. बैंक के प्रवक्ता ने बीबीसी से कहा है कि संस्था ने सारी वैधानिक कार्रवाई पूरी कर दी है.पर बैंक के प्रवक्ता ने स्पष्ट किया कि फ़िलहाल इसके सीमित उपयोग की अनुमति ही दी गई है.''राम'' का लेनदेनअमरीकी राज्य आइवा के महर्षि वैदिक सिटी में भी ''राम'' का प्रचलन है. वैसे 35 अमरीकी राज्यों में ''राम'' पर आधारित बॉन्डस चलते हैं.महर्षि संस्था के ''वित्त मंत्री'' बेंजामिन फेल्डमैन ने बीबीसी से कहा है कि ''राम'' का उपयोग ग़रीबी दूर करने और विश्व शांति के लिए हो सकता है.उन्होंने कहा कि सरकारें ''राम'' का उपयोग कृषि और विकास की अन्य परियोजनाओं में कर सकती हैं.फेल्डमैन ने कहा,''डेढ़ अरब लोग बेहद ग़रीब हैं और उन्हें डॉलर जैसी मुद्रा नसीब नहीं हो रही है, राम का उपयोग उनके लिए मकान, सड़कें और अस्पताल बनवाने के लिए हो सकता है. '' नीदरलैंड जैसे धनी देश में मुद्रा जारी करने को तर्कसंगत ठहराते हुए उन्होंने कहा कि इससे विकासशील देश प्रेरणा ले सकते हैं.मूल्य का मामलानीदरलैंड की डच दुकानों में एक ''राम'' के बदले दस यूरो मिल सकते हैं.डच सेंट्रल बैंक के प्रवक्ता ने बताया कि इस वक्त कोई एक लाख ''राम'' नोट चल रहे हैं. लोग इसे बैंक में जाकर भुना सकते हैं.महर्षि महेश योगी ने 40 साल पहले ''अनुभवातीत ध्यान'' की शुरुआत की थी.

No comments: